Thread Reader

Mahesh Nag

@we_r_indigenous

Sep 23

5 tweets
Twitter

समाज मे धम्म स्थापित करने की प्रक्रिया को सम्राट अशोक ने "धम्मथम्बानि" कहा है| और जिन जिन प्रदेशो मे धम्म स्थापित किया वहाँ पर सम्राट अशोक ने धम्मस्तंभ स्थापित किए| अर्थात, धम्मस्तंभ वास्तव मे सम्राट अशोक के "धम्मविजय" के प्रतीक थे| इसलिए, सम्राट अशोक विजयादशमी के दिन सम्राट अशोक

की प्रतिमा रथ मे रखकर धम्म रैली निकालनी चाहिए और सम्राट अशोक के धम्मस्तंभ की अंत मे पुजा करनी चाहिए| धम्ममहामात्र मतलब धम्म के महान विद्वान अर्थात धम्म महाथेर| सम्राट अशोक ने धम्ममहामात्र की तरह धम्म युक्त भी नियुक्त किए थे| युक्त मतलब जोडना, जिससे योगा शब्द तैयार हुआ है| सम्राट

अशोक के धम्मयुक्त अधिकारी लोगों को धम्म के माध्यम से जोडते थे, इसलिए उन्हे धम्मयुक्त कहा जाता था| सम्राट अशोक के युक्त अधिकारीयो ने भारत के विभिन्न समुदायो को धम्म के माध्यम से जोड़ दिया था, जिससे लोगो के बीच भेदभाव खत्म होकर भाईचारा पैदा हुआ और अखंड शक्तिशाली भारत बनाने मे

सम्राट अशोक सफल हो सके| -@Dr. Pratap Chatse डॉ.प्रताप चाटसे, BINबुद्धिस्ट इंटरनेशनल नेटवर्क

@Thread Reader App @Thread Reader Unroll Helper

Mahesh Nag

@we_r_indigenous

Ideal Rashtrapita Mahatma Jotirao Fule, Rajashri Sahu Ji Maharaj, Periyar E.V.Ramasami Nayakar, WORLD JEWEL Babasaheb Dr.Ambedkar,Studied @BAMCEFinfo University

Follow on Twitter

Missing some tweets in this thread? Or failed to load images or videos? You can try to .